Osho World Online Hindi Magazine :: April 2013
www.oshoworld.com
 
  गतिविधियां
 
 

ओशो संबोधि दिवस

21 मार्च को नई दिल्ली स्थित ओशोधाम में सदगुरु ओशो का संबोधि दिवस बड़े हर्षौल्लाष के साथ  मनाया गया जिसमें अनगिनत ओशो प्रेमियों  और संन्यासियों की उपस्थित रही। कार्यक्रम का संचालन मा योग शुक्ला व स्वामी रविन्द्र भारती ने किया। 

विडियो
समय: 4 मिनट 52 सेकंड

 

ओशो संन्यास-जगत

निगड़ी, पुणे



जय ओशो ग्रुप, चिंचवड़ द्वारा आयोजित, ज्ञान प्रबोधिनी स्कूल के प्रांगण में पांच-दिवसीय ओशो ध्यान शिविर आयोजित किया गया। यह कार्यक्रम 24 से 28 जनवरी तक चला, जिसमें 47 साधक-मित्रों ने हिस्सा लिया। शिविर का संचालन स्वामी कुंदकुंद ने किया।

ओशो साहित्य प्रदर्शनी, मध्य प्रदेश



ओशो सान्ज़ेन, सोलन के द्वारा 01 से 18 फरवरी तक शिवपुरी तथा ग्वालियर में ओशो साहित्य प्रदर्शनी का भव्य आयोजन किया गया। प्रदर्शनी का आयोजन अत्यंत उत्साहपूर्वक रहा। जिसमें स्थानीय मित्रों का सहयोग प्रशंसनीय रहा।

-ओशो सान्ज़ेन

लुम्बिनी, नेपाल



भगवान बुद्ध की जन्मस्थली लुम्बिनी स्थित ओशो जेतवन, आध्यात्मिक ग्राम में 4 से 6 फरवरी को एक त्रि-दिवसीय ध्यान शिविर संपन्न हुआ। कार्यक्रम की शुरुआत प्रातः 7 बजे से संध्या 9 बजे तक होती थी जिसमें ध्यान, उत्सव और गहरे मौन के प्रयोग हुए। शिविर का संचालन स्वामी आनंद अरुण ने किया। साथ-ही मा संगीता द्वारा एक नाटक का मंचन भी किया गया।

-स्वामी ध्यान गगन

मुंगेर, बिहार



आनंद बोधि फाउंडेशन द्वारा ओशो ध्यान साधना शिविर, 8 से 11 फरवरी को आनंदधाम में संपन्न हुआ। शिविर में 55 मित्र शामिल हुए जिसमें 8 लोग नव-संन्यास में दीक्षित हुए। फाउंडेशन के संस्थापक स्वामी आनंद बोधि ने प्रत्येक दूसरे महीने में शिविर आयोजित करने का संकल्प लिया। मा ध्यान तन्मया ने शिविर का संचालन किया।

-स्वामी आनंद महिपाल

जबलपुर, मध्य प्रदेश



ओशो अमृतधाम, देवताल में दिनांक 9 से 17 फरवरी स्वदर्शन साधना शिविर का आयोजन हुआ। इसमें भारत के विभिन्न प्रान्तों से आये साधक मित्रों ने भाग लिया।

-स्वामी शिखर

भिलाई, छत्तीसगढ़

ओशो आश्रम में तीन-दिवसीय 15 से 17 फरवरी ओशो ध्यान शिविर लगा। शिविर में आए साधकों ने ध्यान का पूर्ण आनंद लिया। मा प्रेम ईशा तथा स्वामी आनंद शांतम ने ध्यान-शिविर का संचालन किया।

-स्वामी ध्यान विरामो

ऋषिकेश, उत्तराखंड



ओशो गंगाधाम में 16 से 18 फरवरी तीन दिवसीय ध्यान-शिविर लगा। ध्यान में  अनेकों मित्रों का आगमन हुआ। स्वामी आनंद गोपाल ने कार्यक्रम का संचालन किया।

विराटनगर, नेपाल



ओशो धर्म प्रदीप ध्यान आश्रम में 20 फरवरी को नव-निर्मित ध्यान मंदिर का उद्घाटन तथा ध्यान-सत्संग स्वामी आनंद अरुण के द्वारा किया गया। 350 संन्यासियों एवं मित्रों ने कार्यक्रम में भाग लिया, जिसमें 39 मित्रों ने संन्यास-दीक्षा ग्रहण की।

बोधगया, बिहार



समन्वय आश्रम में एक दिवसीय ओशो ध्यान शिविर आयोजित किया गया। शिविर में भगवान बुद्ध पर ओशो के प्रवचन हुए, जिसका उपस्थित प्रेमियों ने पूरा आनंद लिया।

-स्वामी प्रेम पुजारी

धुलाबारी, नेपाल



ओशो आनंदवन कम्यून में तीन-दिवसीय 22 से 24 फरवरी ओशो ध्यान शिविर का आयोजन हुआ। शिविर में कई देशों के 250 मित्रों का आगमन हुआ। सभी ने मौन के साथ ध्यान का पूरा आनंद लिया। 44 मित्रों ने नव-संन्यास दीक्षा ली। स्वामी आनंद अरुण ने शिविर का संचालन किया।

चित्रकूट, मध्य प्रदेश

स्वामी आनंद एकांत के संचालन में एक तीन दिवसीय ओशो ध्यान शिविर लगा। ध्यान में 75 मित्रों का आगमन हुआ। 9 साधक नव-संन्यास में संन्यस्त हुए। शिविर में सभी ने ध्यान का आनंद लिया।

-विवेक

मालवीय नगर, नई दिल्ली

ओशो भगवानश्री ध्यान केंद्र पर दिनांक 23 फरवरी को एक दिवसीय शिविर का आयोजन हुआ, जिसका संचालन स्वामी आनंद गोपाल ने किया।

जयपुर, राजस्थान

ओम शांति ओशो लाइब्रेरी द्वारा 24 फरवरी को जयपुर के योगपीस सेंटर पर ओशो ध्यान शिविर का आयोजन हुआ। एक दिवसीय शिविर में 40 साधक-मित्रों की सहभागिता रही।

-स्वामी ओम शांति

तपोवन, नेपाल



ओशो तपोवन में फरवरी माह में 4 सप्ताहांत ध्यान शिविर लगे। कार्यक्रम में अनगिनत प्रेमियों ने भाग लिया। स्वामी आनंद अरुण ने उपस्थित सभी मित्रों एवं साधकों को ओशो की देशना से परिचित करवाया। तपोवन में इस माह 20 साधकों ने नव-संन्यास में प्रवेश किया।